Categories
News

टॉय’लेट में बच्चे को जन्म देकर, चुप’चाप क्लास में बैठ गई छात्रा, फिर जो हुआ….

हिंदी खबर

ऐसा कौन सा पेट द’र्द होता है जो ह’र महीने होता है? यार, ये लड़कियां दवा’ई की दुकान से काली प’न्नी में क्या लेकर जाती हैं?

इनको इतनी बार पेशा’ब क्यों लगती है? कभी-कभी मम्मी अ’चार देने से मना क्यों कर देती हैं? आज’कल दीदी का दि’माग ठीक नहीं है, हर बात पर गु’स्सा करती हैं.

अगर आप लड़के हैं तो ऐसे बहुत से सवा’लों ने आपको लं’बे समय तक परे’शान किया होगा. मन में स’वाल उठे होंगे, लेकिन जवा’ब के नाम पर झिड़’क ही मिली होगी.

लड़कियों के लिए मा’सिक ध’र्म का पहला अनुभव जहां द’र्द भरा, अपने ही शरीर को लेकर चौं’काने वाला होता है वहीं लड़कों के लिए भी यह किसी र’हस्य से कम नहीं होता.

पिछले सप्ता’ह हमने बीबीसी पर लड़कियों से उनकी पहली माह’वारी को लेकर अनु’भव सा’झा करने को कहा था.

पर इस बात से सि’हर भी उठा था कि अगर ये प्रॉब्ल’म मुझे हो जाती तो मम्मी-पापा को कैसे बताता.

लड़कियों के लिए मा’सिक ध’र्म का पहला अनुभव जहां द’र्द भरा, अपने ही शरीर को लेकर चौं’काने वाला होता है वहीं लड़कों के लिए भी यह किसी र’हस्य से कम नहीं होता.