Categories
News

बिहार में उबा’ल: ओबीसी ने उठाया ऐसा कदम, लालू नीतीश दोनों हुए….

हिंदी खबर

लोजपा सां’सदों द्वारा पशु’पति कुमार पारस को पा’र्टी का नया राष्ट्रीय अध्य’क्ष चुने जाने पर उन्हें हम ने बधाई दी है। हम के प्र’वक्ता दानिश रिजवान ने फोनकर पशु पति पारस को बधाई दी है। चि’राग पासवान का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि आज यह एक बार और सि’द्ध हो गया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खि’लाफ सा’जिश करने वालों का यही अंजा’म होगा। आज चिराग पास’वान का खुद का घर बिख’र गया है।

इससे पहले सोमवार को लोज’पा में टू’ट की खबरों के बीच दिवंग’त नेता रामवि’लास पासवान के भाई और सांसद पशु’पति पा’रस ने खुद पर लगे आरा’पों का खं’डन किया है। सोमवार को मीडि’या के साथ बातची’त में पशुपति ने कहा कि कल का फैस’ला मज’बूरी में लिया गया है। दलित पिछ’ड़ों की आ’वाज बनना और उनकी म’दद करना स्वर्गी’य रामविलास पासवान का सपना था। इसी का’रण वो एनडीए में शामि’ल हुए थे। चिराग पासवान से जुड़े स’वाल का ज’वाब देते हुए उन्होंने कहा कि वो हमारे भतीजे हैं और पार्टी के राष्ट्रीय अध्य’क्ष भी हैं। मेरे और उनके बीच कोई मत’भेद नहीं है। अगर वो चाहें तो पार्टी में रह सकते हैं। मैं फिर से कहना चाहता हूं कि हमने पा’र्टी तोड़ी नहीं, बचाई है। रामविलास पासवान की आ’त्मा के शांति के लिए हम जबत’क हैं, तबतक पार्टी जिं’दा रहेगी।

रविवार को सामने आई थी बगा’वत
गौरत’लब है कि रविवार को पशुपति पारस के ने’तृत्‍व में पार्टी के 6 सांसदों में से 5 सां’सदों ने चिराग पासवान के खि’लाफ बगाव’त कर दी थी। सोमवार को चिराग को हटा’कर प’शुपति पारस पासवान को संसदीय द’ल का नया नेता चु’न लिया गया है। चाचा के इस कदम के बाद लोजपा अध्य’क्ष चिराग पासवान बिल्कु’ल अकेले पड़ गए हैं। बा’गी सांसदों ने उन्‍हें राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मानने से भी इन’कार कर दिया है। जिन पांच सांसदों ने चि’राग से अलग होने का फैस’ला लिया है उनमें पशुपति पारस पासवान (चाचा), प्रिंस राज (चचेरे भाई), चंदन सिंह, वीणा देवी, और महबूब अली केशर शा’मिल हैं। अब चिराग पार्टी में बिल्‍कु’ल अकेले रह गए हैं।