Categories
News Other

पुलिस के गिरफ्तार करते ही गैंगस्टर विकास दुवें ने खोला बड़ा राज, बताया…….

खबरें

इसके बाद उज्जैन के महाकाल थाने के पास उसने स्थानीय पुलिस के सामने सरेंडर किया है। पुलिस ने आरोपी विकास दुबे को गिरफ्तार कर लिया है और उसे थाने में लेकर आई है। उधर सरेंडर की खबर के बाद एसटीएफ की टीम उज्जैन रवाना हो गई है।

इसके पहले विकास दुबे गैंग के दो और अपराधी गुरुवार सुबह ढेर कर दिए गए। मारे गए गैंग के दोनों अपराधियों की शिनाख्त प्रभात मिश्रा और बऊआ दुबे के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि फरीदाबाद में विकास दुबे की मदद करने वाला प्रभात मिश्रा को गुरुवार सुबह पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है।

आईजी रेंज कानपुर ने बताया कि फरीदाबाद में विकास को छिपने में तीन लोगों ने मदद की थी, जिन्हें कल गिरफ्तार कर लिया गया था। प्रभात भी उनमें से एक था। प्रभात मिश्रा और बऊआ दुबे दोनों पर 50 हजार का इनाम था।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में 8 पुलिस वालों को शहीद करने वाले हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को उज्जैन से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया है। घटना के बाद से 7 वे दिन उसे गिरफ्तार किया गया है। खबरों के मुताबिक उत्तर प्रदेश पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि कर दी है।

बताया जा रहा है कि विकास दुबे ने महाकालेश्वर मंदिर की पर्ची कटाई और इसके बाद खुद ही सरेंडर कर दिया। फिलहाल, स्थानीय पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि विकास दुबे ने स्थानीय मीडिया को अपने सरेंडर की खबर दी।