Categories
News

क्या आप भी चम्मच के बजाय हाथ से खाते हैं खाना? जानें, कौन सा तरीका है आपके लिए सही………..

न्यूज

कई लोगों को आपने कहते सुना होगा कि वह चम्मच-कांटे के बयाज हाथ से खाने का अलग स्वाद होता है। आजकल ज्यादातर लोग हाथ से नहीं खाते। खासकर किसी के सामने या बाहर ऐसे खाना एटिकेट्स के खिलाफ माना जाता है। हालांकि साउथ में अभी भी लोग चम्मच का इस्तेमाल कम करते हैं। वैसे अगर आपको हाथ से खाने के फायदे पता चलें तो शायद आप भी अपने कटलरी सेट किनारे रख देंगे।

क्या कहता है आयुर्वेद

माना जाता है उंगलियों में 5 तत्व होते हैं। वेदों के मुताबिक, जब हम खाने को अपनी पांचों उंगलियों से छूते हैं तो ये एलिमेंट्स पेट में डाइजेशन का प्रॉसेस तेज कर देते हैं। हमारी उंगलियों की नर्व एंडिंग्स पर जब खाना टच करता है तो दिमाग से पेट को सिग्नल पहुंचता है कि आप खाने वाले हैं, ऐसे में खाना पचाने में आसानी होती है। हाथ से स्पर्श के साथ आपको इसके स्वाद, महक और खाने के टेक्स्चर का करीब से अहसास होता है।

बढ़ता है ब्लड सर्कुलेशन

हाथ से खाना एक अच्छी एक्सर्साइज माना जाता है, जिससे हमारा ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है। रोटी को तोड़ना या चावल को दाल में मिलाना और उसका बाइट बनाना आपके हाथ के जोड़ों के लिए अच्छा होता है।

टाइप 2 डायबीटीज से हो सकता है बचाव

जर्नल क्लीनिकल न्यूट्रीशन में छपी एक स्टडी के मुताबिक, टाइप 2 डायबीटीज के मरीज ज्यादातर चम्मच-कांटे से खाने वाले थे। कांटे-चम्मच से खाने वाले जल्दी-जल्दी खाना खाते हैं। इससे ब्लड शुगर का संतुलन बिगड़ जाता है और टाइप-2 डायबीटीज का खतरा बढ़ जाता है।

वजन घटाने में मिल सकती है मदद

जर्नल ऐपेटाइट में छपी एक स्टडी के मुताबिक, हाथ से खाने वालों को जल्दी भूख नहीं लगती। अगर लंच में खाना हाथ से खाते हैं तो शाम तक हल्के-फुल्के स्नैक्स से काम चल सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि हाथ से खाना खाने से पेट अच्छी तरह भर जाता है। इससे बार-बार कुछ खाने का मन नहीं करता। हालांकि खाना खाने से पहले हाथों को अच्छे से धोना भी जरूरी है।