Categories
धार्मिक

सोमवार को गलती से भी न खरीदें ये सामान, वरना घर में पड़ जाएंगे खाने के लाले कुछ नहीं बचेगा…

धार्मिक

सनातन धर्म और ज्योतिष में हर दिन के लिए नियम बनाए गए हैं. हिंदू धर्म को मानने वाले सदियों से इन नियमों का पालन करते आ रहे हैं. क्योंकि ये नियम हमारी जिंदगी के हर कदम पर असर डालते हैं. इसीलिए इन नियमों का पालन करना जरूरी होता है. आज सोमवार है और ज्योतिषशास्त्र में सोमवार के लिए भी कुछ नियम बनाए गए हैं जिनमें खानपान से लेकर खरीद फरोख्त और व्रत के बारे में बताया गया है. आज हम आपको सोमवार के कुछ ऐसे ही नियम और सोमवार के व्रत के बारे में बताने जा रहे हैं. सबसे पहले बात करते हैं खरीददारी की.

हर व्यक्ति को खरीदारी करना पसंद होता है, लेकिन हर दिन खरीदारी के लिए शुभ नहीं माना जाता. हफ्ते के सातों दिन अलग-अलग भगवान को समर्पित होते हैं, इसके साथ ही हर दिन अलग-अलग ग्रहों के भी माने जाते हैं. भारतीय ज्‍योतिष शास्‍त्र में ग्रहों का बहुत महत्‍व है, हर ग्रह को राशियों से जोड़ा गया है, साथ ही हर दिन को भी इसी के अनुसार देखा जाता है. कुछ विशेष चीजों की खरीदारी विशेष दिन पर करने की मनाही है. ऐसा करने से आप पर ग्रहों का कुप्रभाव पड़ना शुरु हो जाएगा और आपके बने बनाए काम बिगड़ने लगेंगे.

सोमवार का दिन भगवान भोलेनाथ को समर्पित है. इस दिन भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना की जाती है. इस दिन महिलाएं व्रत रखती हैं और कुंवारी कन्‍याओं के लिए इस दिन व्रत रखना बहुत ही शुभ माना जाता है. एक अच्‍छे वर की प्राप्ति के लिए इस दिन व्रत रखना शुभ माना जाता है. इसके साथ ही सोमवार का दिन चंद्रमा को भी समर्पित है. इसीलिए इस दिन सफेद रंग का प्रयोग करना शुभ माना गया है.

सोमवार के दिन भूल से भी न खरीदें से सामान

ज्योतिषशास्त्र में सोमवार के दिन जिन चीजों को खरीदने की मनाही है उन्‍हें जान लेना बहुत जरूरी है. क्योंकि कई बार ये वस्‍तुएं खरीदना ग्रहों को परेशान कर देता है और जीवन में अशुभ होने लगता है. इसीलिए सोमवार को अनाज, कला से संबंधित वस्‍तुएं, कॉपी-किताब, खेल के सामान, गाड़ी, इलेक्‍ट्रानिक गैजेट आदि नहीं खरीदने चाहिए. क्योंकि इन्‍हें खरीदना अशुभ माना जाता है.