Categories
News Other

लद्दाख की खूनी झड़प में शहादत की आयी थी खबर..बाद में पत्नी को फोन कर कहा जिन्दा हूं मैं…..

खबरें

भारत-चीन सीमा पर स्थित गलवान रिवर फ्रंट में सोमवार रात हुई मुठभेड़ में 20 भारतीय सैनिकों की शहादत हुई है। इसमें बिहार के कर्नल रैंक के अफसर के साथ बिहार बटालियन के कई अन्य जवानों की भी जान जाने की खबर आई थी। इनमें एक जवान सुनील कुमार का नाम भी सामने आया था। हालांकि, अब साफ हुआ है कि सुनील कुमार की उस घटना में जान नहीं गई थी और वे पूरी तरह सुरक्षित हैं। उनकी पत्नी ने दावा किया है कि फोन पर सुनील ने उनसे बात भी की।


सुनील के परिवार का कहना है कि उन्हें और पुलिस अधिकारियों को सेना की तरफ से सुनील के शहीद होने की जानकारी मिली थी। इसके बाद सारण जिले के दीघरा परसा गांव में उनके परिवारवाले मातम में डूब गया। हालांकि, बुधवार सुबह ही सुनील का फोन आया, जिससे परिवार को राहत मिली। सुनील ने फोन पर परिवार वालों से बात की और बताया कि वे पूरी तरह सुरक्षित हैं। उनकी पत्नी मेनका ने बताया है कि मंगलवार शाम 5 बजे उन्हें सुनील के शहीद होने की खबर मिली थी। इसके बाद से ही परिजन दुखी थे। हालांकि, सुनील का फोन आने के बाद परिवारवालों की जान में जान आई।

कहा जा रहा है कि चीन-भारत के बीच गलवान में हुई झड़प में सुनील नाम के ही एक अन्य जवान की मौत हुई है। यह कन्फ्यूजन एक जैसा नाम होने की वजह से ही हुई। हालांकि, लड़ाई में जिस जवान की जान गई, उनका नाम सुनील राय है। सुनील कुमार और सुनील राय दोनों के ही पिता का नाम सुखदेव राय है, जिसकी वजह से दोनों की मौत पर कन्फ्यूजन पैदा हुआ। इस पर सुनील की पत्नी ने कहा कि उनके पति की सलामती के बाद गांव में छाया मातम खुशी में बदल गया।