Categories
धार्मिक

इन पांच पौधों को भूलकर भी अपने आंगन में न लगाएं, होने लगती हैं अशुभ दुर्घटनाएं…

धार्मिक

वास्तु के अनुसार पेड़ पौधों का संबंध भी घर की चमक बनाने से होता है। अगर आपके घर में पेड़ पौधे सही दिशा में लगाए गए हैं तो घर में खुशहाली आती है, वहीं अगर गलत दिशा में यह गलती से लग गए हैं तो कई तरह की समस्याएं जन्म लेती हैं। वास्तु में कुछ पौधों को घर के आंगन या आसपास लगाने को लेकर कई तरह की बातें की गई हैं, आइए जानते हैं इनके बारे में ।

  • ऐसा कोई भी पेड़ जिसमें कांटे होते हैं। ऐसे पेड़ों को कभी भी अपने घर के आंगन में ना लगाएं। आपको बताएं कि ऐसे पौधे घर में नकारात्मकता के साथ-साथ कई तरह की परेशानियां लाते हैं। ऐसी मान्यता है कि इस तरह के पौधे लगाने से घर में क्लेश बढ़ता है और पैसों की कमीं बनी रहती है, लेकिन गुलाब का पौधा एक रूप में अपवाद है।
  1. इमली के पेड़ को भूलकर भी अपने घर में नहीं लगाना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि इमली का पेड़ घर में लगाने से कई बीमारियों जन्म होता है। इसके साथ ही आपसी संबन्धों में खटास आती है,जिससे पूरे घर का माहौल खराब हो जाता है और साथ ही नकारात्मक शक्तियों घर में प्रवेश होने का डर बना रहता है।
  2. पीपल के पेड़ को तो काफी शुभ माना गया है, इसकी पूजा भी की जाती है, लेकिन इसके पौधे को कभी भी घर के अंदर या बाहरी गेट के आसपास नहीं लगाना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इससे धन की कमीं होती है,लेकिन वैज्ञानिक वजह यह है कि पीपल की जड़े दूर-दराज तक फैलती हैं। इस स्थिति में यह घर की दीवारों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए अगर आपके घर में पीपल का पौधा उग आए तो उसे जड़ से उखाड़ कर किसी भी मंदिर के पास या पवित्र स्थान पर लगा देना चाहिए।
    4.मदार का पौधा बहुत सारे लोग घर पर लगातें हैं, लेकिन वास्तु के अनुसार इसको अच्छा नहीं माना जाता है। मान्यता यह है कि मदार समेत ऐसे कोई भी पौधे जिनसे दूध निकलता है, उन्हें घर के अंदर नहीं लगाना चाहिए l इससे नकारात्मकता पैदा होती है।
  3. बता दें कि खजूर का पेड़ घर की सुंदरता को जरूर बढ़ाता है, लेकिन इसे लगाने से पहले सोचना चाहिए। वास्तु के अनुसार इसे लगाने से घर के सदस्यों की तरक्की रुक जाती है और परिवार में आर्थिक रूप से कमीं आती है।