Categories
धार्मिक

पति पत्नी के झगड़े दूर करने के महाउपाय एक बार जान गए तो जीवन भर रहेंगे खुश..

धार्मिक

पति पत्नी के बीच झगड़ा दूर करने का टोटका , ” पति पत्नी में लड़ाई झगड़े कलेश होना तो सामान्य बात है फिर भी अगर ज्यादा तकरार हो रही है तो आपस में प्यार बढ़ाने बढ़ाने के लिए हमारे समाधान का प्रयोग कर सकते है| यूं तो पति-पत्नी में वादविवाद या साधारण सी लड़ाई सामान्य घटना है | किंतु, कभी-कभी यह अत्यंत उग्र रूप धारण कर लेती है | बस यहीं से शुरू होता है गृहस्थरूपी रथ के डगमगाने का सिलसिसा | इस रथ का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है पति-पत्नी | इनका आपसी तालमेल ही गृहस्थ की गाड़ी को ठीक से सम्भाले रखता है | अत: यह गाड़ी ठीक से चले इसके लिए हम लेकर आए हैं पति-पत्नी के बीच अनबन दूर करने के उपाय |

जिन पति पत्नी में आपसी परेशानी है उनमे आपसी प्यार और आकर्षण वापस बरकरार हो जाए यह बहुत ज्यादा जरूरी है | उनका जीवनरूपी रथ अच्छी तरह से चलता है इसके लिए वे अपनाए हमारे द्वारा सुझाए गए पत्नी पत्नी के बीच अनबन दूर करने के उपाय | ये उपाय निम्नलिखित है —

१) पति पत्नी के बीच प्यार बढ़ाने के उपाय में सबसे महत्वपूर्ण है आपसी समझदारी और सहनशीलता | इसके अलावा कुछ अन्य ज्योतिष उपाय में पति पत्नी भगवान गणेश की उपासना करें | उन्हे लड्डू का भोग लगाए |

२) कीड़ी नगरा ( शक्कर या चीनी मिला आटा ) ४० दिनों तक निरंतर चीटियों को दे | ३) पति पत्नी के संबंध में बढ़ हुए तनाव को कम करने के लिए “हलूं बलजाद” कह कर तीन गोमती चक्र घर के दक्षिण दिशा में फेंके |

४) सिंदूर के डिब्बे में पांच गोमती चक्र रख कर पूजा-स्थान या श्रृंगार के स्थान में रखना पति पत्नी के बीच में प्यार बढ़ाने के उपाय में अन्यतम है |

५) पति-पत्नी के आपस में प्यार बढ़ाने के लिए पत्नी अपने पति का नाम एक भोजपत्र पर लाल कलम से लिख कर “हं हनुमंते नमरु” मंत्र का पर जाप करते हुए घर के किसी कोने में रख दें |

६) इसके अलावा नियमित रूप से हर मंगल के दिन हनुमानजी को सिंदूर चढ़ाएं, ११ मंगलवार तक |

७) गेंहू पिसवाने के पहले उसमें सौ ग्राम काले चना मिलाकर पिसवाए | हाँ ध्यान रहे गेंहूं केवल शनिवार या सोमवार को ही पिसवाए | इस प्रकार का आटा खाने से पति पत्नी के बीच प्यार बढ़ता है |

८) आपसी प्रेम, विश्वास और श्रद्धा पैदा करने के लिए माता पार्वती और भगवान शंकर की आराधना करे | साथ ही सोमवार का व्रत रखने से पर्याप्त फल की प्राप्ति होती है |

९) ४५ दिनों तक रोज स्फटिक से बने हुए शिवलिंग पर गंगाजल और बेलपत्र चढ़ाए | शंकर की आराधना भी करें |

१०) रात को पत्नी अपने पति के तकिये के नीचे सिंदुर की पुड़िया रखे | दूसरे दिन पति सुबह उठकर आधे सिंदुर को कहीं पर घर पर गिरा दे | आधे सिंदुर से पत्नी की मांग भरे | इसी तरह पति भी पत्नी के तकिये के नीचे कपूर रखे | अगली सुबह उसे जला दे | यह पति पत्नी के बीच झगड़े से मुक्ति का जबरदस्त टोटका है |

११) पति पत्नी के बीच झगड़े से मुक्ति के टोटके में एक और टोटका यह है कि सिंदूर लगे गेंदा फूल किसी भी भगवान की प्रतिमा के सामने पर चढ़ा दे | इससे भी दोनों के बीच में अनबन कम हो जाती है और प्यार बढ़ने लगता है |

१२) इसके अलावा पति अपनी पत्नी को हर शुक्रवार के दिन एक सुंदर सा सुगंध वाला पुष्प प्रदान करे | इसके साथ-साथ चांदी की चम्मच -कटोरी से उसे शक्कर खिलाएं | ऐसा करने से पति-पत्नी के बीच होने वाले अनबन का आवश्य ही निवारण होगा |

१३) रात को सोते समय एक पात्र में पानी भरकर अपने बिस्तर के नीचे रखें | दूसरे दिन सुबह उस जल को घर के बाहर छिड़क दें | १४) पति पत्नी के बीच में मनमुटाव दूर हो प्यार बढ़ेगा अगर प्रतिदिन बिना नागा दो तुलसी के पत्तों को लेकर पूजा में रखें | अब गायत्री मंत्र का २१ बार जाप कर पति एक पत्ता माता को और एक पत्नी को खिला दे | १५) सीता-राम की एक बड़ी तस्वीर घर की दीवार पर लगाएं |

१६) शयनकक्ष से ऐसा आयना हटाए जिसपर सोते वक्त आपकी परछाई पड़ती हो |

१७) ११ मंगलवार तक हर मंगलवार लाल कपड़े में लाल चंदन, पांच छोटे नारियल और मसूर की दाल लेकर पोटली बनाएं और उसे गंगा में विसर्जित कर दें | अवश्य दांपत्य सुख में वृद्धि होगी |

१८) पत्नी किसी भी शुक्रवार की रात को कुछ लवंग पति से स्पर्श कराए | अब अपने इष्ट का ध्यान कर इसे आंचल में बांध ले | दुसरे दिन उसे पीस कर किसी व्यंजन में मिलाए | अब इसे पति को खिला दे | इस टोटके का लगातार ३ शुक्रवार तक पालन करने से दांपत्य जीवन में खुशियां आएगी |

१९) पत्नि अपने एक पैर की चप्पल के वजन के बराबर आटे की रोटी बनाकर पति को खिलाएं | इसके लिए उससे पहले तराजू पर एक तरफ चप्पल रख कर दूसरी तरफ आटा रखकर वजन करना होगा |

२०) भारतीय ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राहु का अगर दोष हो तो उसका निदान अत्यधिक जरूरी है | इसके लिए लगातार ४० दिन तक नारियल और बादाम बहते हुए जल में बहाना चाहिए | इससे दांपत्य जीवन में मधुरता आती है |

२१) अपने जीवन साथी को डल्फिन मछली भेंट दे |

२२) शयन कक्ष के पश्चिम अथवा पूरब दिशा की दीवार पर दो डॉल्फिन मछली की प्रतिमा या तस्वीर लगाएं |

२३) शयनकक्ष में रखा हुआ बेरियम बतख के जोड़े का चित्र भी पति पत्नी में प्रेम बढ़ाता है |

२४) आपसी अनबन दूर करने के लिए यह मंत्र भी बड़ा कारगार सिद्ध हुआ है | प्रातः मां काली या दुर्गा के चित्र पर लाल पुष्प चढ़ा व धूप दीप जलाकर १०८ वार स्फटिक माला से २१ दिन तक निम्न मंत्र का जाप करें और लाभ प्राप्ति के पश्चात माला को जल में प्रवाहित कर दें | यह मंत्र है —

“धं धिं धुम धुर्जते पत्नी पति वां वीं बूम वाग्धिश्वरी |

२५) एक अन्य मंत्र –

“अक्ष्यौ नौ मधुसंकाशे अनीकं नौ समंजनम् |

अंत कृणुष्व मां हृदि मन इन्नौ सहासति |”

इस मंत्र का अर्थ का जाप माँ पर्वती की तस्वीर के सामने कम से कम २१ बार करें |

जब दो लोग पति और पत्नी की तरह शादी के बंधन में बांध जाते हैं तो हिन्दू धर्म ग्रंथों के मार्गदर्शन के अनुसार वे सात जन्मों का साथ निभाएंगे। ऐसा कर पाना मुश्किल ही नहीं आज-कल के ज़माने में नामुमकिन है। चूँकि आज के समय में लोगों की जीवन गति बहुत तेज़ है, लोग तनाव में डूबे हुए हैं और शहरी जनता तो ख़ासकर इतनी परेशान है की सात जन्म तो छोड़िये वह सात मिनट में ही लड़ पड़ते हैं। यह कतई सही नहीं है पर यह एक हकीकत है। अब लोगों में वह मेल-जोल कहाँ रहा जो पहले हुआ करता था? जी पुरानी फिल्मों में हाव-भाव देखने को मिलते हैं वे आज-कल तो बिलकुल ही नहीं मिलते।