Categories
धर्म

इस गणेश चतुर्थी ऐसे करें पूजा, मिलेगी गणेश जी की असीम कृपा…….

धार्मिक खबर

वैशाख माह में विनायक चतुर्थी 15 मई को है। विनायक चतुर्थी के दिन गणपति महाराज की विधि-विधान से पूजा की जाती है। प्रत्येक माह में शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को विनायक चतुर्थी का व्रत किया जाता है। मान्यता है कि इस व्रत को करने से जातकों के समस्त प्रकार के विघ्न, संकट मिट जाते हैं। साथ ही इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से गणेश जी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। आप भी इन उपायों को कर गणपति महाराज की कृपा पा सकते हैं।

विनायक चतुर्थी पर आम, पीपल, नीम के बने गणेश जी की मूर्ति घर के मुख्य दरवाजे पर लगाएं। इससे घर में सकारात्मक उर्जा आती है जो धन और सुख में वृद्धि कारक मानी जाती है। इसके साथ ही गणेश महाराज परिजनों का बौद्धिक विकास भी करते हैं

विनायक चतुर्थी पर गाय के गोबर से बनी गणेश जी की मूर्ति स्थापित कर उसकी पूजा करें। इस उपाय से घर का वातावरण शुद्ध शांत रहता है। घर में परिजनों के स्वास्थ्य के लिए भी इनकी पूजा करना लाभदायक होता है।

विनायक चतुर्थी पर श्वेतार्क गणेश की मूर्ति की पूजा करें। गणपति महाराज जी की यह मूर्ति धन और सुख वृद्धि कारक मानी गई है। गणेश जी की आराधना करने से कुंडली में बुध ग्रह भी मजबूत होता है और जातकों को इसके अनेकों लाभ मिलते हैं।

विनायक चतुर्थी पर क्रिस्टल से निर्मित गणेश जी की प्रतिमा की आराधना करें। वास्तु के अनुसार, क्रिस्टल से निर्मित गणेश जी की मूर्ति को वास्तुदोष दूर करने में बहुत ही कारगर माना गया है। गणेश जी के साथ क्रिस्टल की लक्ष्मी की पूजा धन और सौभाग्य वृद्धिकारक मानी जाती हैं। घर में आर्थिक संकट नहीं आता है।

विनायक चतुर्थी के दिन हल्दी से गणेश जी की मूर्ति बनाकर रखें। गणेश जी की यह मूर्ति बहुत ही शुभ और सुखदायक मानी जाती है। इससे घर में खुशियों का आगमन होता है। घर में परिजनों के बीच भाईचारा और प्रेम बढ़ता है।