Categories
News Other

कोरोना : लॉकडाउन दोबारा लगाने पर सरकार हो रही मजबूर, दे दिए हैं ये सारे संकेत !

खबरें


कोरोना वायरस के महामारी पूरी दुनिया में फैल चुकी है. सरकार पूरी तरह कोशिश कर रही है कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए इसलिए लॉकडाउन लागू किया गया था और इससे काफी शायद है देखने को मिला अब केंद्र ने लॉकडाउन में ढील देने के साथ अनलॉक-1 की भी शुरुआत कर दी है. गुरुवार को देश में करीब 10 हजार नए केस सामने आए. जिनसे स्वास्थ्य मंत्रालय की चिंता बढ़ गई है. भारत में अब कुल संक्रमित मरीजों का आकंड़ा 3 लाख के करीब पहुंच चुका है.
प्राइवेट सेक्टर में निकली है बंपर भर्ती विभिन्न पदों पर जल्दी करें आवेदन
दिल्ली हाईकोर्ट में यह याचिका वकील अनिर्बान मंडल और उनके कर्मी पवन कुमार ने दाखिल की है। याचिका में कहा गया है कि दिल्ली में आगामी जून के अंत तक संक्रमण के मामले एक लाख तक पहुंच जाएंगे। जुलाई के मध्य तक करीब 2.25 लाख और जुलाई के अंत तक 5.5 लाख मामले सामने आने की आशंका है।

वहीं हाईकोर्टमें दाखिल की गई याचिका में दिल्ली सरकार से मांग की गई है कि वह चिकित्सकों, चिकित्सकीय विशेषज्ञों और महामारी रोग विशेषज्ञों की एक विशेषज्ञ समिति गठित करने पर विचार करे ताकि कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर काबू किया जाए। वहीं याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में दिल्ली सरकार से राजधानी में एक बार फिर से लॉकडाउन लागू करने की अपील की है, ताकि राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण पर रोक लगाई जा सके।

इसके साथ ही याचिका में दावा किया गया है कि जब से राजधानी दिल्ली में तमाम धार्मिक स्थल, सार्वजनिक परिवहन सेवाओं, रेस्तरां, होटल व मॉल खोलने की इजाजत दी गई है, तब से दिल्ली में संक्रमणों के मामलों में लगातार इजाफे की कड़ी जारी है। याचिका में दावा किया है कि अगर आने वाले दिनों तक भी यह सिलसिला जारी रहा…तो फिर अस्पतालों में पर्याप्त बेड और आईसीयू के अभाव का सामना करना पड़ सकता है।